Queen To Laxmibai | Kangana Ranaut Bollywood Life | Maharashtra Uddhav Government | Prabhat Khabar

5 Просмотры
Издатель
कुछ दिनों से महाराष्ट्र का सियासी तापमान में फिल्मी स्टार्स की इंट्री हो गई है. सुशांत सिंह राजपूत केस में किरकिरी कराने के बाद महाराष्ट्र की उद्धव सरकार कंगना रनौत के मुद्दे पर सियासी बयानबाजी का शिकार हो चुकी है. शिवसेना नेता संजय राउत लगातार कंगना रनौत पर हमले कर रहे हैं. दूसरी तरफ कंगना हैं जो हर हमले का अपने हिसाब से जवाब दे रही हैं. रविवार को कंगना रनौत ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की. इस मुलाकात के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं.
दरअसल, मुंबई में अपने ऑफिस पर बीएमसी के बाद कंगना रनौत भड़की हुई हैं. राज्यपाल से मुलाकात के दौरान कंगना ने अपने खिलाफ जारी कार्रवाई की जानकारी दी. खास बात यह रही कि कंगना के हाथ में कमल के फूल को देखकर सियासी मतलब भी साधे जा रहे हैं. कंगना रनौत हमेशा सुर्खियों में रहती हैं. उनकी फिल्म रिलीज हो या नहीं. कंगना की एक-एक बात पर राजनीति जरूर होती है. फिलहाल सुशांत सिंह राजपूत केस में कंगना के बयान के बाद शिवसेना से उनकी कड़वाहट हर गुजरते दिन के साथ बढ़ती ही जा रही है.

#kanganaranaut #kanganavsshivsena #uddhavthackeray

Official Website: https://www.prabhatkhabar.com/

Install Prabhat Khabar Android App: https://play.google.com/store/apps/details?id=com.readwhere.whitelabel.prabhatkhabar

Subscribe our Channel: https://www.youtube.com/prabhatkhabartv

Like us on Facebook: https://www.facebook.com/prabhat.khabar/

Follow us on Twitter: https://twitter.com/prabhatkhabar

Follow us on Instagram: https://www.instagram.com/prabhat.khabar/

About The Company:
वर्ष 1984 में स्थापित न्यूट्रल पब्लिशिंग हाउस लिमिटेड भारत के शीर्ष मीडिया एवं संचार समूहों में एक है. यह झारखंड, बिहार और पश्चिम बंगाल में सक्रिय है. इसके फ्लैगशिप ब्रांड का नाम है प्रभात खबर. कंपनी मोबाइल और गांवों के लिए निकलने वाले साप्ताहिक समाचार पत्र के जरिये इवेंट एवं आउटडोर, इंटरनेट, वैल्यू ऐडेड सर्विसेज भी देती है.
प्रभात खबर महज एक समाचार पत्र नहीं है. यह लोगों की आवाज और आत्मा बन चुकी है. पत्रकारिता को समर्पित इस समाचार पत्र ने पत्रकारीय धर्म और उसके पारंपरिक मूल्यों से कभी समझौता नहीं किया. इस संस्थान ने सदैव पत्रकारिता के मूल्यों का पालन किया. आज के दिन में प्रभात खबर भारत के सबसे ज्यादा प्रसारित हिंदी समाचार पत्रों की लिस्ट में सातवें नंबर (IRS Q4 2012) पर है. पाठक संख्या की वृद्धि के मामले में देश के 10 सबसे तेजी से बढ़ते हिंदी समाचार पत्रों में यह अखबार शीर्ष पर था. इस समाचार पत्र की संपादकीय टीम ने सुशासन और पाठक केंद्रित ऐसे विषयों को उठाया, जो आगे चलकर मुद्दा बन गया. प्रभात खबर रांची, जमशेदपुर, धनबाद, देवघर, पटना, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, गया, कोलकाता और सिलीगुड़ी में प्रकाशित और प्रसारित होता है.
Категория
Музыкальные видео
Комментариев нет.